आखिर क्यों बदला टीम इंडिया की जर्सी का रंग


रविवार के मैच में इंग्लैंड के खिलाफ टीम इंडिया न्यू जर्सी ऑरेंज रंग की पहनकर मैदान पर उतरी है। भारत के खिलाफ इंग्लैंड का यह करो या मरो का मुकाबला होगा। वहीं, दूसरी ओर इंडिया टीम की नजर इस मैच को जीतने के बाद सेमीफाइनल में जाने की होगी। आइए जानते हैं कि आखिर क्यों ऑरेंज रंग की जर्सी पहनकर मैदान पर उतरी टीम इंडिया?

क्या खास है नई जर्सी में

नई जर्सी का लगभग भाग नारंगी रंग का रखा गया है। और पीछे का हिस्सा सारा इसी रंग में है, आगे का भाग और कॉलर गहरे नीले रंग के है। इस जर्सी में जो नीला रंग इस्तेमाल किया गया है, वो नियमित नीली जर्सी से भी अलग है और गहरे नीले रंग का है। जर्सी की बाहें भी नारंगी रंग की है और इस पर टीम इंडिया भी नारंगी रंग से ही लिखा गया है। ये जर्सी नियमित जर्सी की तुलना में काफी हल्की बताई जा रही है।

आईसीसी के नियमो के तहत बदला रंग 

आईसीसी के नियम के तहत वर्ल्ड कप में एक जैसे रंग की जर्सी वाली टीमों में से एक टीम को ‘अल्टरनेट जर्सी’ पहनकर उतरना है। मसलन, पाकिस्तान और साउथ अफ्रीका की टीमें हरे रंग की जर्सी पहनती हैं, लेकिन वर्ल्ड कप मैच के दौरान साउथ अफ्रीका पीले रंग की जर्सी में दिखाई देती है इसके साथ ही इंग्लैंड मेजबान है, इसलिए उनको अपनी मुख्य जर्सी पहनने का अधिकार है।

 भारतीय टीम की जर्सी नई पीढ़ी के हार नहीं मानने के जज्बे से प्रेरित

नाइकी ने इस जर्सी को लांच करते हुए कहा कि भारतीय टीम की अवे किट नई पीढ़ी के हार नहीं मानने के जज्बे से प्रेरित है। हाल ही में टीम इंडिया की नई जर्सी लांच की गई थी और ये नई जर्सी भी उसी तरह से आधुनिक जरूरतों को पूरा करती है। नई जर्सी में भी ऐसी तकनीक का इस्तेमाल किया गया है जिससे खिलाड़ियों को कम पसीना आए।

आपस में खेलने वाली दोनों टीमें एक ही रंग की जर्सी पहनकर नहीं खेल सकती 

आईसीसी के नियमों के मुताबिक, किसी भी ऐसे मैच में, जिसका प्रसारण टीवी पर होता है, दोनों टीमें एक ही रंग की जर्सी पहनकर नहीं उतर सकती हैं। यह नियम फुटबॉल के ‘होम और अवे’ मुकाबलों में पहनी जाने वाली जर्सी से प्रेरित होकर बनाया गया है। हालांकि ये नियम मेजबान टीम पर लागू नहीं होगा। मालूम हो कि ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और वेस्ट इंडीज को अपनी जर्सी का रंग बदलने की जरूरत नहीं होगी क्योंकि उनका रंग किसी भी टीम की जर्सी से मेल नहीं खाता है। 

जर्सी के नये रंग पर भी हुई राजनीती 

इंग्लैंड के खिलाफ टीम इंडिया कौन सी जर्सी पहनेगी इसे लेकर राजनीतिक दलों की तरफ से भी काफी कुछ कहा जा रहा था। कई दलों की तरफ से तिरंगे के अपमान की भी बात कही गई थी। कांग्रेस और सपा ने तो इसे खेल का भगवाकरण बता दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *