जीवन बचाना है तो पेड़ पौधे लगाने होंगे

नसीराबाद  देश में सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण ऐतिहासिक छावनी नसीराबाद के सेना क्षेत्र स्थित सैन्य चिकित्सालय की कमान अधिकारी ब्रिगेडियर जी. हेमाश्री के नेतृत्व में छाया एवं फलदार पौधरोपण का अभियान सेना अस्पताल से शुरू किया गया। इस मौके पर ब्रिगेडियर जी. हेमाश्री ने कहा कि पेड़-पौधे और जंगल की धड़ल्ले से की गई कटाई के कारण मौसम का मिजाज बदल गया है और अनिश्चित समय में सर्दी, गर्मी, बरसात होने लगी है। अर्थ वार्मिंग के कारण पहाड़ों से बर्फ पिघल कर विकराल रूप धारण करने लगी है।

पर्यावरण इतना अधिक प्रदूषित हो गया है कि श्वास और और दमे के रोगियों में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है। यह हालात भविष्य के लिए और अधिक खतरनाक साबित हो सकते हैं। भविष्य में इंसान ही नहीं बल्कि जीव की रक्षा के लिए पेड़ पौधों की सुरक्षा करना और जनसंख्या की तुलना में पेड़ पौधे लगाना आवश्यक हो चुका है। इस मौके पर सेना अस्पताल के वरिष्ठ रजिस्ट्रार कर्नल एन. रंगनाथ ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को पांच-पांच पौधे लगाकर उनकी परवरिश और सुरक्षा का दायित्व निभाना चाहिए। तभी भविष्य में जीव का जीवन सुरक्षित रह सकता है। सूबेदार संजीव कुमार ने बताया कि इस अभियान के तहत सेना अस्पताल सहित खुले मैदान, अधिकारियों, जेसीओ, जवानों के आवास के बाहर भी पौधरोपण करके जिम्मेदारियां सौंपी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *