मोदी सरकार के 100 दिन के एजेंडा,मुद्दे पर विस्तार से चर्चा की गई।

FILE PHOTO

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को वित्त मंत्रालय और नीति आयोग के अधिकारियों से मुलाकात की। न्यूज एजेंसी को सूत्र ने बताया कि 5 जुलाई को बजट पेश होने से पहले यह अहम बैठक हुई। इसमें। मोदी इन बैठकों के जरिए अधिकारियों से सुझावों और सुधारों पर चर्चा कर रहे हैं। इन सुझावों को बजट में भी शामिल किया जा सकता है।

  1. इसके अलावा कृषि क्षेत्र की समस्याओं को दूर करना और आय बढ़ाना भी आने वाले बजट का मुख्य एजेंडा होगा।
  2. बताया जा रहा है कि मोदी हर विभाग के लिए सुधार का खाका तैयार करना चाहते हैं और इसके पीछे उनका मकसद देश में व्यापार को आसान बनाना और अर्थव्यवस्था को मजबूत करना है। 
  3. आंकड़े बताते हैं कि महंगाई के नियंत्रण में रहने के बावजूद जनवरी-मार्च तिमाही में आर्थिक विकास दर 5.8% रही, यह भी पांच साल में सबसे कम थी।
  4. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बजट में धीमी अर्थव्यवस्था, एनपीए, रोजगार निर्माण, निजी निवेश, आयात जैसे मुद्दों पर विशेष ध्यान देंगी। बजट से पहले हुई बैठक में अर्थशास्त्रियों ने एनबीएफसी सेक्टर के लिए भी इन्सॉल्वेंसी और बैंकरप्सी जैसी व्यवस्था शुरू करने का सुझाव दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *