जेट पर वेंडर्स के 10000 करोड़ रुपए बकाया

FILE PHOTO

विदेशी वेंडर्स ने अपने हित सुरक्षित रखने के लिए याचिका (इंटरवेन्शन पिटीशन) दायर करने की इजाजत मांगी है। इन पर नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) गुरुवार को सुनवाई करेगा। जेट के खिलाफ बैंकों की दिवालिया याचिका पर भी सुनवाई होगी।

एनसीएलटी गुरुवार को जेट के दो ऑपरेशनल क्रेडिटर शमन व्हील्स और गागर एंटरप्राइजेज की याचिकाओं पर भी सुनवाई कर सकता है। दोनों ने 10 जून को दिवालिया अर्जी दाखिल की थी। शमन व्हील्स ने जेट पर 8.74 करोड़ रुपए और गागर एंटरप्राइजेज ने 53 लाख रुपए बकाया होने का दावा किया है।

कर्ज की वसूली के लिए बैंकों ने दिवालिया अदालत जाने का फैसला किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *