भारत-वेस्टइंडीज के बीच मैच आज, इंडिया को 1983 में 66 रन से हराया था

भारत  इंग्लैंड में विंडीज  से पिछले 36 साल से नहीं हारा  

मैच का प्रसारण दोपहर 3:00 बजे से स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर

वर्ल्ड कप में 34वें मैच में आज भारत का मुकाबला वेस्टइंडीज से मैनचेस्टर में होगा जिसमे टीम इंडिया की नजर लगातार पांचवीं जीत रहेगी। वर्ल्ड कप के इतिहास में भारत लगातार 5 मैच दूसरी बार जीत सकता है। पिछली बार 2015 वर्ल्ड कप में उसे लगातार छह मुकाबलों में सफलता मिली थी। दोनों टीमों के बीच इंग्लैंड के मैदान पर यह छठा मुकाबला होगा। भारत तीन में जीता। वेस्टइंडीज को सिर्फ दो में ही जीत मिली। टीम इंडिया विंडीज के खिलाफ यहां पिछली बार 1983 में हारी थी। तब उसे 66 रन से शिकस्त मिली थी। अंक तालिका में भारत की टीम 5 मैचो में 9 अंको के साथ तीसरे स्थान पर मौजूद है। इस मैच में जीत के बाद वह सेमीफाइनल में जगह बनाने के करीब पहुंच जाएगा। दूसरी वेस्टइंडीज की टीम 4 मैच हार चुकी है। उसे 1 में जीत मिली और एक मैच बारिश के कारण रद्द हो गया। बाकी बचे तीन मैच में जीतने पर भी उसके 9 अंक ही होंगे। दो बार की चैम्पियन टीम सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो चुकी है।

भारत की ताकत
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली इस बार टूर्नामेंट में फॉर्म में हैं। उन्होंने 4 मैच में 244 रन बनाए। इस दौरान उनका औसत 61 और स्ट्राइक रेट 102.09 का रहा है। कोहली ने टीम के लिए सबसे ज्यादा 3 अर्धशतक लगाए। वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे में पिछली छह पारियों में उनके नाम 4 शतक है। ऐसे में विंडीज के खिलाफ वे इस मैच में भी बेहतर प्रदर्शन करना चाहेंगे। भारत ने दक्षिण अफ्रीका को पहले मैच में 227 रन पर रोक दिया। वहीं, दूसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 352 रन का बचाव किया। ऑस्ट्रेलियाई टीम को 50 ओवर में 316 रन पर ऑलआउट कर दिया।

भारतीय टीम का कमजोर पक्ष 
लोकेश राहुल के ओपनिंग करने से चौथे नंबर की जगह खाली हो गई। पिछले मैच में विजय शंकर इस क्रम पर उतरे, लेकिन उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा। वे 41 गेंद पर 29 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। ऐसे में टीम प्रबंधन के लिए यह क्रम चिंता का कारण बना हुआ है। शंकर को अगर मौका मिलता है, तो उन्हें खुद को साबित करना होगा। उनका स्थान लेने के लिए ऋषभ पंत भी टीम में हैं।

वेस्टइंडीज टीम की ताकत
वेस्टइंडीज का यह ओपनर अपनी टीम को तेज शुरुआत देने में सक्षम है। पिछले मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्होंने 84 गेद पर 87 रन बनाए थे। गेल ने इस मैच में 103.57 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए। उनकी नजर इस मैच में वेस्टइंडीज के लिए वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बनने पर होगी। उन्होंने 295 वनडे में 10345 रन बनाए। इस मामले में उनसे आगे ब्रायन लारा हैं। लारा ने 299 वनडे में 10405 रन बनाए थे। गेल को उन्हें पीछे छोड़ने के लिए 60 रन चाहिए। विंडीज के इस युवा तेज गेंदबाज ने वर्ल्ड कप में सबको प्रभावित किया है। उन्होंने 6 मैच में 9 विकेट लिए। वे टीम के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। कॉटरेल ने एक बार मैच में चार विकेट लिए। वे भारत के खिलाफ इस बड़े मुकाबले में फिर से सबको प्रभावित करना चाहेंगे।

 वेस्टइंडीज टीम का कमजोर पक्ष 

वेस्टइंडीज को पिछले तीन मुकाबलों में ओपनर्स से बेहतर शुरुआत नहीं मिली। क्रिस गेल के जोड़ीदार के तौर पर न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में शाई होप उतरे। दोनों ने पहले विकेट के लिए सिर्फ 3 रन की साझेदारी की। बांग्लादेश और इंग्लैंड के खिलाफ गेल के साथ ओपनिंग करने इविन लेविस उतरे, लेकिन 6दोनों बड़ी साझेदारी करने में नाकार रहे। बांग्लादेश के खिलाफ 6 और इंग्लैंड के खिलाफ 3 रन की साझेदारी की।

दोनों टीमो के खिलाडी 
भारत : विराट कोहली (कप्तान), जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल, शिखर धवन, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, भुवनेश्वर कुमार, हार्दिक पंड्या, लोकेश राहुल, मोहम्मद शमी, विजय शंकर, रोहित शर्मा, कुलदीप यादव।

वेस्टइंडीज : जेसन होल्डर (कप्तान), फैबियान एलेन, कार्लोस ब्रैथवेट, डॉरेन ब्रावो, शेल्डन कॉटरेल, शेनोन गैब्रिएल, क्रिस गेल, शिमरॉन हेटमायर, शाई होप, इविन लेविस, एश्ले नर्स, निकोलस पूरन, केमार रोच, आंद्रे रसेल, ओसाने थॉमस।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *